परीक्षा से पहले ये फूड्स और एक्सपर्ट राय बच्चों को अच्छा स्कोर करने में करेगी मदद

Views:30500

परीक्षा की तारीख घोषित होते ही बच्चों के साथ उनके माता-पिता भी तैयारियों में लग जाते है। बच्चो के ऊपर जहाँ अच्छा रिजल्ट लाने का दबाव होता है तो अभिभावको पर बच्चे के अच्छे नतीजे लाने और अपने प्यारे बच्चों के स्वास्थ्य का भी दबाव होता है। मानसिक दवाबों के इन दिनों में बच्चे के स्वास्थ्य के बारे में माता-पिता का चिंतित होना स्वाभाविक है। सही आहार और उचित पोषण परीक्षा के दिनों में आपको मानसिक दबाव से उबरने में काफी योगदान दे सकता है। आहार विशेषज्ञों की रिपोर्ट को फॉलो कर आप अपने बच्चे को कक्षा का चैंपियन बना सकते है।



सही आहार का महत्व : परीक्षा समय में टॉप करने के इच्छा में घंटों तक स्टडी करने वाले बच्चों पर अक्सर तनाव देखा जाता है। परीक्षा के दौरान अस्वास्थ्यकर भोजन की आदत उनको बीमार बना देती है। इसी कारण शरीर से अस्वस्थ बच्चे परीक्षा के दिनों में थके और नींद से ग्रस्त नजर आते है।


लंबे समय तक अध्ययन करने वाले बच्चों के मस्तिष्क विकास के लिए सही आहार लेना काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। उचित और पोषण युक्त आहार मस्तिष्क तंत्रिकाओं को शांत कर तनाव को कम करने में मदद करता है इसके अलावा याददाश्त में सुधार करते हुए ये खाद्य पदार्थ शरीर को सक्रिय रखता है।





परीक्षा से पहले खाने के लिए फूड्स : परीक्षा के दिनों में आपका बच्चा किसी सैनिक से कम नही होता है इसलिए आप आपने बच्चे के लिए उन खाद्य वस्तुओं का चुनाव करें जिनमें शर्करा के स्तर कम हो ऐसा करने से आपका बच्चा परीक्षा के दौरान सुस्त नही होगा। इसके अलावा उच्च पोषण युक्त संतुलित भोजन का चुनाव भी आपके नन्हे दिमाग पर ठीक रहेगा। आप रोजाना के लिए निम्नलिखित फ़ूडस को अपने बच्चे की डाइट में शामिल कर सकते है।


  • नट्स : नट्स में आप बदाम,काजू,किशमिश अखरोट आदि अन्य नट्स भी शामिल कर सकते है।


  • स्मूदी फूड्स : स्मूदी फूड्स में आप मौसमी फलों और सब्जियों का जूस बना कर अपने बच्चे को चुन सकते है।

  • पनीर युक्त सैंडविच






पारंपरिक दही-चीनी : दही परीक्षा के दौरान सबसे उत्तम भोजन है। दही को स्वाद बनाने के लिए आप उसमे हल्का चीनी जोड़ सकते है। दही शारीरिक तंत्रिकाओं को शांत कर फौरन ऊर्जा का संचार करता है जिस कारण मस्तिष्क सक्रिय और तनाव मुक्त रहता है। आप दही को अधिक प्रभावी और स्वादिस्ट बनाने के लिए उसमे फल और नट्स मिला सकते है।






परीक्षा के दिनों में इन फूड्स से बच्चों को रखें दूर : एग्जाम के दिनों में अपने दुलारे को नींद और थकान से बचाने के लिए उचित आहर ही जरूरी नही है। आपको उसे ऐसे खाद्य पदार्थों से बचाने भी होगा जो उसे बीमार करते है। बुरा भोजन आपके बच्चे की क्षमता पर भी प्रभाव डालता है जिस कारण वह वो परीक्षा में वो प्रदर्शन नही कर पता जिसके वो काबिल होता है। एग्जाम में ऐसे खाद्य पदार्थ को अपने बच्चे की थाली से दूर रखे जो उच्च शर्करा और उच्च वसा युक्त होते है।


कुछ खाद्य पदार्थ हम नीचे दे रहे है जो आपके बच्चे की सेहत को अधिक प्रभावित करता है।


  • डिब्बाबंद फलों के जूस


  • पिज्जा, बर्गर जैसे जंक फूड


  • समोसा, आलू और तले हुए अन्य खाद्य पदार्थ


इस तरह के खाद्य पदार्थ मस्तिष्क कोशिकाओं को नुकसान पंहुचा कर मन में चिंता और घबराहट पैदा करते है और फूड्स स्वच्छता के लिहाज में भी गरंटी नही देते है। बच्चो को जहाँ तक संभव हो घर पर बना भोजन देना ही ठीक रहता है। घर पर बने भोजन पेट रोगों के खतरे को कम करते है। भोजन के अलावा डिहाइड्रेशन से बचने के लिए पर्याप्त पानी देना बच्चे को ना भूले।

और पढ़े

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Category

अच्छे और सफल पिता बनने के नियम


आँख से संपर्क


कार्यालय


किशोर


कॉलेज


गर्लफ्रेंड समस्याएं


चुंबन


डेटिंग टिप्स


त्यौहार


दुल्हे और दुल्हन


दोस्त


नवजात बेबी के परवरिश करने के टिप्स


पति और पत्नी


पिता


पुरुष


पुरुषों के टिप्स


प्यार


प्रेम


फोरप्ले


फ्लर्ट


बच्चे


मर्दों के लिए टिप्स


महिला


महिलाओ के लिये टिप्स


रिलेशनशिप


रोमांस


लड़का


लड़कियों के बात करने के टिप्स


लड़कियों के लिये टिप्स


लड़की


लव बाइट


वयस्क


वर्जिनिटी


विवाह


वेलेंटाइन


शादी का दिन


सिड्‍यूस विज्ञान


सुबह सेक्स के लिए टिप्स


सुहागरात


सेक्स


सेल्फ हेल्प टिप्स


हिक्की


होठ


पति और पत्नी रिलेशनशिप


पुरुष


बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रेंड


रोमांटिक


शादीशुदा जिंदगी


शादीशुदा जीवन में तनाव


स्त्री / महिला