बच्चों के साथ त्यौहारो का जश्न मनाने के लिए कुछ सुझाव

Views:27850

आज के जो पेरेंट्स उन बच्चों में से है जिनके त्यौहार इसलिए खास हो जाया करते थे क्योकि उनके माता-पिता अकसर फेस्टिवल पर कुछ विशेष और नया करने की योजना बनाते रहते थे। आज उस बहुमूल्य समय के बीत जाने के बाद आज के बच्चों से ईर्ष्या करना जायज है।



एक बच्चे के रूप में आपने अपने सभी त्यौहार परिवार के साथ बिताएं है लेकिन क्या एक अभिभावक के रूप में आप यह करने में सफल रहे है। त्यौहारी सीजन शुरू हो चुका है और इस वर्ष के अंत से लेकर अगले वर्ष के शुरू तक महत्वपूर्ण भारतीय पर्व आने वाले है जो समूचे भारत में मनाये जाते है।



अगर आप अपने सारे त्यौहार में फॅमिली और बच्चो के साथ बिताते है तो यह काफी अच्छा है लेकिन अगर आप ऐसा करने में असफल हो रहे है तो आपने बचपन की स्मृति बनाने का यह शुभ अवसर है। अगर आप इस बार त्यौहार पर बच्चों के साथ कि क्वालिटी टाइम बिताना चाहते हैं तो आपके लिए कुछ सुझाव दिए गए हैं जिनकी मदद से आप अपने और बच्चो के लिए यह त्यौहारी सीजन यादगार बना सकते है।





उस दिन योजना पहले बना लें : अकसर आपने बच्चो को समझाया होगा कि किसी भी काम को योजनाबद्ध तरीके से किया जाए तो उसके सफलता के चांस बढ़ जाते है। अब अपनी कही इस बात पर अमल करने की बारी आपकी है। सबसे पहले कैलेंडर पर त्यौहार की तारीखों को मार्क कर ले उसके बाद अपने सभी कामों की योजना तैयार करते हुए महत्वपूर्ण बैठकों को स्थगित कर उस दिन की छुट्टी लें।






मदद के लिए सहकर्मियों से बात करें : आप विशेष दिन के लिए छुट्टी पर जा रहे है इसलिए कार्यालय सहयोगी या अपने सीनियर से बात कर मदद ले सकते है जिसकी वजह से काम प्रभावित ना हो और यह इसलिए भी जरूरी है ताकि बच्चों के साथ एन्जॉय करते आपके मन को काम बाधित ना कर सके। आपका अवसर पूर्ण होते ही मौका आने पर आप यह एहसान वापस भी कर सकते हैं।





योजनाओं का चार्ट तय करें : त्यौहार पर जिन वस्तुओं की जरूरत है आप उसे पहले बुक कर लें। इसके अलावा तारीख पंडाल होपिंग, मस्ती की वजह से पड़ोसियों की दिक्कत,अप्रिय घटना के बाद उसका निवारण जैसी बातो के लेकर मुहल्ला निवासियों के प्रमुख और योजना से संबंध रखने वाले लोगों के साथ चर्चा करके अपनी तारीख और आप अपने बच्चे के साथ क्या करने की योजना बना रहे है उनको बता दे ताकि लोगो की वजह से बच्चे और परिवार के सामने आपकी योजना बाधित ना हो। अगर आप ऐसा करते है तो ऐसा करने से लोगो का साथ और सलाह भी प्राप्त होगी जिसका आप लाभ योजना चार्ट तैयार करते समय ले सकते है।






अपने तरीके से त्यौहार मनाने का प्रयास करें : त्यौहार मनाने का पारंपरिक तरीके से पालन करें यह कोई जरूरी नही है। आप त्यौहार को प्रचीन मान्याताओं से मनाते हुए बच्चों का ख्याल कर उसमे आधुनिकता का तड़का भी लगा सकते है। इसके अतिरिक्त भारत में होली जैसे कुछ ऐसे त्यौहार भी आते है जिन पर आप घर से बाहर दोस्तों के परिवार को शामिल कर अलग क्षेत्रो की होली देखने के लिए भी जा सकते है।





बुकिंग से होंगी प्रसन्नता : मीठे तीखे चटपटे व्यंजन अकसर बच्चो को आकर्षित करते है और आज के युग में उनकी पसंद का ख्याल करते हुए भोजन प्राप्त करना बहुत आसान हो गया है। त्यौहार के दिन बच्चो के साथ रसोई में अधिक मेहनत करने की जगह बच्चों के पसंदीदा, स्वादिष्ट व्यंजनों का आर्डर पहले ही दे दें ताकि मौके पर देर होने या फिर खत्म होने का दुकानदार बहाना ना लगा सके। इसके अलावा आजकल आप ऑनलाइन आर्डर देकर कुछ समय में ही भोजन प्राप्त कर सकते है और यह आपको त्यौहार के विशेष अवसर पर प्री बुकिंग करने छूट भी मिलती है।





समारोहों में लोगों को शामिल करें : असली मजा तो सबके साथ आता है यह कथन बिलकुल सत्य है। आप अपने त्यौहार में अपने हाउसिंग सोसायटी, ऑफिस सहयोगिओं के परिवार व् अन्य पडोसी को भी शामिल कर अपने मजे को दोगुना कर सकते है। सामूहिक परिवार के शामिल होने पर आप बच्चों के लिए गायन ड्राइंग या फैंसी ड्रेस प्रतियोगिताओं का आयोजन कर उनका हौसला बढ़ा सकते है और आपकी इन गतिविधियों की तैयारीओं को देखकर आपके बच्चे को समाज में तालमेल बैठाने का हुनर भी प्राप्त होगा।



हर बच्चा अपनी हर ख़ुशी माता-पिता के साथ चाहता है इसलिए फेस्टिवल में जितना हो सके उतना समय टीवी मोबाइल ,दोस्तो की पार्टी छोड़कर बच्चो के साथ समय व्यतीत करते हुए मस्ती करे।

और पढ़े :- पेरेंट्स इन बातों को हरगिज शेयर ना करें अपने बच्चों से



परीक्षा से पहले ये फूड्स और एक्सपर्ट राय बच्चों को अच्छा स्कोर करने में करेगी मदद



नवजात बेबी के परवरिश करने के टिप्स



बच्चे की बेहतर और स्वस्थ नींद के लिए माता पिता अपनाये ये टिप्स



बच्चे के अन्दर आत्मविश्वास पैदा करने के आसान उपाय

और पढ़े

Comment Box

    User Opinion
    Your Name :
    E-mail :
    Comment :

Category

अच्छे और सफल पिता बनने के नियम


आँख से संपर्क


कार्यालय


किशोर


कॉलेज


गर्लफ्रेंड समस्याएं


चुंबन


डेटिंग टिप्स


त्यौहार


दुल्हे और दुल्हन


दोस्त


नवजात बेबी के परवरिश करने के टिप्स


पति और पत्नी


पिता


पुरुष


पुरुषों के टिप्स


प्यार


प्रेम


फोरप्ले


फ्लर्ट


बच्चे


मर्दों के लिए टिप्स


महिला


महिलाओ के लिये टिप्स


रिलेशनशिप


रोमांस


लड़का


लड़कियों के बात करने के टिप्स


लड़कियों के लिये टिप्स


लड़की


लव बाइट


वयस्क


वर्जिनिटी


विवाह


वेलेंटाइन


शादी का दिन


सिड्‍यूस विज्ञान


सुबह सेक्स के लिए टिप्स


सुहागरात


सेक्स


सेल्फ हेल्प टिप्स


हिक्की


होठ


पति और पत्नी रिलेशनशिप


पहली बार सेक्स करने के टिप्स


पुरुष


बॉयफ्रेंड और गर्लफ्रेंड


रोमांटिक


शादीशुदा जिंदगी


शादीशुदा जीवन में तनाव


स्त्री / महिला