कॉलेज में पहला दिन शुरू करने के लिए कुछ जरूरी टिप्स

Views:43500

कई लोगों को पहले दिन कॉलेज जाने का अनुभव काफी चुनौतीपूर्ण लगता है जहा पहला दिन हमे काफी मौज करने की सोचते है वही उस दिन उतने ही तनाव ग्रस्त नजर आते है। वैसे तो स्कूल की तुलना में कॉलेज कई   मायनों में अलग है लेकिन फिर भी हमे इतना चिंतित होने की जरूरत नहीं होती है जितना हम असल में होते है। आज हम कुछ ऐसे सुझाव के साथ आए है जो पहले दिन कॉलेज जाने में आपकी सोच पर काफी परिवर्तन ला देगा और संभव के रूप से पहले दिन कॉलेज या हॉस्टल में गुजरना आपको आसान लगेगा।





हॉस्टल में कमरे का दरवाजा खुला छोड़ दें
: कॉलेज अगर आपके शहर के बाहर है तो कॉलेज में जाने से के दिन पहले आपको हॉस्टल जाना पड़ता है। अगर आपके मन में दुसरो से बात की शुरुवात करने में हिचक महसूस होती है तो हॉस्टल में कमरे का दरवाजा खुला छोड़ने की निति अपना परिचय कराने का सबसे तेज तरीका है। दरवाजा खुला यह दर्शाता है कि आप किसी से भी चैट करने के लिए तैयार है और आप जल्दी से दोस्त बनाना चाहते है। दरवाजा खुला देख आने जाने वाला कोई भी आपको हाय कह सकता है जिससे आपको जान पहचान बढ़ाने में मदद मिलेगी और आपका इम्प्रेसन भी अपने रूममेट के सामने अच्छा पड़ेगा।





सामान का ख्याल रखे : घर जैसा महसूस कराने के लिए पूरा अपना कमरा स्थानांतरित करने की जरूरत नही है। सबसे अहम बात घर से समान लाने के लिए लाये गये सूटकेस और बॉक्स को खाली होने के बाद उन्हें जल्द से जल्द वापिस भेज दें। कमरे में सभी समान अच्छे से सेट करें और अधिक और बार-बार प्रयोग होने वाले समान को बॉक्स के ऊपर रखे ताकि रोज-रोज की उथल-पुथल से बचा जा सके और अपने रूममेटस के साथ समान पैक में उनकी मदद करे और जब आप उनकी मदद करेंगे या लेंगे इससे आपके और उनके बीच फॉर्मल के अलावा भी बातचीत होगी जो जल्दी ही आप दोनों को घुलनशील बना देगा।


पता लगाना  :  अपना सारा समय हॉस्टल और कैफेटेरिया में खर्च मत करो। वहाँ से बाहर जाओ और अपने कॉलेज के परिसर के बारे में पता करो। अपनी कक्षाओं के अलावा भी आप पैदल यात्रा कर पूरा कॉलेज घूम सकते है। आप अपने पसंदीदा खेल या एंटरटेनमेंट की जगह या कॉलेज के बगीचे, पुस्तकालय थिएटर रूम और अन्य कई जगह देखने का प्रयास करें इससे कॉलेज में जल्द ही आप घर जैसा महसूस करेंगे।



कई लोगों से मिलें  : आप ही तरह कई और लोगो का भी कालेज में पहला दिन होगा इसलिए बिना संकोज इस मौके का लाभ ले। आप पहले दिन अधिक से अधिक लोगो से मुस्कुरा कर मिले। आपको हम पहले दिन गहरी दोस्ती करने के लिये नही कह रहे पर कई लोगों से परिचय कर उनके नाम और हलकी फुलकी जानकारी तो ले ही सकते है और परिचय करने के लिए सभी का पक्का दोस्त होने की जरूरत नहीं होती।





हर कोई नर्वस है :  कॉलेज का हर स्टूडेंट एक दुसरे का वेलकम मुस्कुराते हुए ही करेगा इसका अर्थ ये कतई नही है की वह अंदर से डर नहीं रहा है आप ही की तरह हर किसी के लिए ये नया अनुभव है तो आप घर की याद या दोस्त बनाने चिंता छोड़ बहुत मजबूत व्यक्ति बन नई सेटिंग का मजा ले।


इसलिए पहली बात तो ये किसी के दरवाजे पर दस्तक देने या हाय कहने के बारे में ज्यादा परेशान होने की जरूरत नही है और दूसरी बात ये की हर कोई नए दोस्त बनाने के लिये उत्सुक है इसलिए आपके प्रयास करने पर आपकी सराहना की संभावना बन सकती है।


पहला दिन मीठे के साथ शुरू करें  : अगर आप कुकीज़ चॉकलेट या कैंडी का डिब्बा अपने साथ रख सकते है तो ये काफी अच्छा रहेगा। आप अपने क्लासमेटस ,रूममेटस को और हॉस्टल के अन्य दोस्तों के सामने कुकीज़ या चॉकलेट पेशकश कर बात की शुरुवात कर सकते है और ये लोगो को काफी पसंद भी आयेगा।


शोर करने से बचे : कॉलेज के पहले दिन इयर प्लग या हैडफ़ोन ले जाना न भूले और फ़ोन को इनसे कनेक्ट रखे या तो साइलेंट मोड़ पर रखे क्योकि आप के आचानक फोन आ जाने से अन्य छात्र बाधित हो सकते है। जहा तक हो सके अपने फ़ोन पर गाने भी काफी कम आवाज पर ही सुने .इस बात का खास ध्यान रखे आवाज हैडफ़ोन के बाहर न जाए और अगर कोई आपको कोई आवाज लगाए तो आप आसानी से उसकी बात सुन सकें।




ड्रेस : कई दिन पहले से आप अपने आप से सवाल कर गुस्सा रहे होते है कि पहले दिन कॉलेज पहन कर क्या जाए। पहले दिन आप फॉर्मल या कोई अच्छी सी ऐसी ड्रेस खरीद ले जो आपकी पर्सनालिटी में निखार लाने के साथ साथ आरामदेह भी हो। कपडे आपकी शरीर की भाषा के साथ-साथ पहला प्रभाव भी डालते है इसलिए भडकीली ड्रेस के जगह व्यावहारिक सिंपल कूल सुन्दर और आरामदेह ड्रेस को ही चुने।


चिंता मत करो : आप सबसे अच्छा पहला दिन था आप कुछ नही कर पाए या कुछ गलती हो भी तो भी अधिक चिंता मत करें। कॉलेज के अपने पहले दिन ही सब कुछ नही होता कॉलेज में आपको चार साल तक रहना है तो बीते 24 घंटों  के बारे में सोच करे आने वाले दिनों पर दबाव न डालें, जरा सोचो, अगले दिन और भी अधिक लोगों से मिलना होगा और उन लोगों में से कोई एक आपका सबसे अच्छा दोस्त बन सकता है और क्या पता अगला दिन आपकी जिन्दगी का सबसे अच्छा दिन साबित हो।


वास्तव में अगर आप ध्यान दे तो कुछ लोग पहला दिन खराब जाने की वजह से कॉलेज में पहला दिन ही नही पहले पुरे सप्ताह ही तनावपूर्ण अनुभव करते है ये सिर्फ उनके पहले दिन की खराब मानसकिता के कारण होता है इसलिए पहले दिन का अनुभव जैसा भी हो उसे अधिक महत्व न दे। आप कक्षाओं में सही समय पर शामिल हो लोगों से मुलाकात का सिलसिला जारी रखें।


कॉलेज के पहले दिन के लिए सबसे अहम और जरूरी बात ये है कि घबराएं नहीं और किसी के बारे में कोई राय कायम ना करे।

Comment Box